मध्य प्रदेश

गुना में 3 पुलिसकर्मियों की हत्या के बाद एक्शन, ग्वालियर IG को तत्काल प्रभाव से हटाया

भोपाल. काले हिरण के शिकारियों ने गुना में तीन पुलिसकर्मियों की हत्या कर दी. इस घटना पर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जबरदस्त रोष व्यक्त किया है. उन्होंने घटनास्थल पर पहुंचने में देर करने वाले ग्वालियर आईजी अनिल शर्मा को तत्काल हटा दिया. है. इस घटना पर गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने भी आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए. ये घटना गुना जिले के पास आरोन इलाके में हुई. सरकार ने मृतक पुलिसकर्मियों के परिजनों को एक-एक करोड़ देने की घोषणा की है.

इस घटना पर शोक जताते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट किए- ‘गुना में शिकारियों का मुकाबला करते हुए हमारे पुलिस के जवानों ने शहादत दी है. अपराधियों के खिलाफ ऐसी कार्रवाई होगी, जो इतिहास में उदाहरण बनेगी. अपराधियों की लगभग पहचान हो गई. जांच चल रही है. पुलिस फोर्स को भेजा गया है. अपराधी किसी भी कीमत पर नहीं बचेंगे.’

परिवार को एक-एक करोड़ की मदद- सीएम

सीएम ने ट्वीट किया- ‘पुलिस के साथी राजकुमार जाटव, नीरज भार्गव, संतराम को शहीद का दर्जा देकर इनके परिवार को एक-एक करोड़ रुपये सम्मान निधि दी जायेगी. परिवार के एक सदस्य को शासकीय सेवा में लिया जाएगा. पूरे सम्मान के साथ इनका अंतिम संस्कार होगा. घटना के बाद घटनास्थल पर पहुंचने में विलंब करने पर मैंने ग्वालियर के आईजी को तत्काल हटाने का फैसला लिया है.

गृह मंत्री ने कही ये बात

गुना की घटना पर मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने दुख जताया है. गृह मंत्री मिश्रा ने कहा कि यह बड़ी दुखद और हृदय विदारक घटना है. जैसे ही घटना की जानकारी मिली तभी से सभी के संपर्क में हूं. एसपी और डीजीपी से लगातार बात हो रही है. उन्होंने कहा कि कि गुना जिले के पास आरोन क्षेत्र में 7-8  बदमाशों होने की सूचना पुलिस को मिली थी. बदमाशों ने पुलिस टीम पर गोलीबारी की. इसमें हमारे जांबाज सब- इंस्पेक्टर राजकुमार जाटव, हवलदार नीलेश भार्गव और सिपाही संतराम की दुखद मृत्यु हो गई. मुख्यमंत्री स्वयं घटना की मॉनिटरिंग कर रहे हैं. मैंने सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं. ऐसी कार्रवाई जो बाकी अपराधियों के लिए नजीर बने. अपराधी कोई भी हो पुलिस से बचके कहीं नहीं जा सकेगा.

Tags: Bhopal news, Mp news




Source link

Related Articles

Back to top button