उज्जैन

कर्फ्यू में फिर सख्ती… किराना दुकान खोलने की अनुमति रद्द की

Publish Date: | Mon, 03 May 2021 10:53 PM (IST)

उज्जैन (नईदुनिया प्रतिनिधि)। उज्जैन को कोराना मुक्त करने के लिए कर्फ्यू में एक बार फिर सख्ती कर दी गई है। कलेक्टर आशीष सिंह ने 1 मई से किराना दुकान सुबह 8 से दोपहर 12 बजे तक खोलने की जो छूट प्रदान की थी, उसे फिर रद्द कर दिया है। कहा है कि तीन दिन में जिन्हें जितना सामान खरीदना था, वह खरीद चुके। अब पहले की तरह सभी किराना दुकानें बंद रखना होगी। हां, अनुमति प्राप्त दुकानदार अपनी दुकान से घर पहुंच सेवा के माध्यम से किराना सामान की बिक्री कर सकेंगे। अब लोगों को किराना सामान खरीदना है तो उन्हें विभिन्ना इंटरनेट प्लेटफार्म पर प्रसारित नजदीकी दुकानदार के मोबाइल नंबर पर काल कर घर पर ही सामान मंगवाना होगा। आमजन के घर से बाहर निकलने पर पूर्ववत पाबंदी रहेगी।

बता दें कि कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए प्रशासन बीते एक माह में एक बार कर्फ्यू और धारा 144 में ढील देता रहा है। इस ढील से लोगों को जरूर राहत मिली है, पर इसके घातक परिणाम बाजारों में बड़ी भीड़ और कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ने के रूप में देखने को मिले हैं। हर बार दी गई ढील में प्रशासन का सोचना यह रहा कि लोग कोरोना की गंभीरता को समझेंगे और कोविड गाइडलाइन का पालन करते हुए आवश्यक होने पर ही जरूरत का सामान खरीदेंगे लेकिन हुआ उल्टा। कई लोगों ने दो-तीन माह का अतिरिक्त सामान स्टोर करना शुरू कर दिया। इसका असर बाजार में उपलब्ध सामान की कीमतों पर भी पड़ा। बहरहाल, उज्जैन को कोरोना मुक्त करने के लिए प्रशासन ने कर्फ्यू में फिर सख्ती कर दी है। पूर्व आदेश अनुसार पेट्रोल पंप दिनभर खुले रहेंगे। शादी समारोह पर प्रतिबंध जारी रहेगा। अनावश्यक रूप से तफरीह करने वालों पर पर जुर्माना और धारा-188 में कार्रवाई की जाएगी।

गोपाल मंदिर और दौलतगंज में किराना दुकानों पर भीड़, पुलिस ने खदेड़ा

गोपाल मंदिर क्षेत्र में स्थित किराना दुकानों पर सोमवार सुबह 8 बजे बाद अच्छी खासी भीड़ एकत्र हो गई थी। उसी दौरान कलेक्टर आशीष सिंह एसपी सत्येंद्र कुमार शुक्ला शहर का निरीक्षण करते हुए छत्री चौक की ओर से गोपाल मंदिर क्षेत्र से गुजरे थे। दुकानों पर भीड़ देखकर एसपी शुक्ला ने वायरलैस सेट पर पुलिस को वहां से भीड़ को खदेड़ने के निर्देश दिए। दोनों अधिकारी अपने वाहन से नहीं उतरे और सीधे वहां से चले गए। सामान ले रहे लोग कोरोना गाइडलाइन का पालन भी नहीं कर रहे थे। लोग शारीरिक दूरी का पालन नहीं कर रहे थे। इस पर दोनों अधिकारी खासे नाराज हो गए। इसके बाद खाराकुआं थाना प्रभारी जितेंद्र भास्कर व टीम वहां पहुंची और लोगों को वहां से खदेड़ दिया। इसी तरह थोक किराना बाजार दौलतगंज में भी लोगों की अच्छी खासी भीड़ होने पर पुलिस ने कार्रवाई कर भीड़ को वहां से हटा दिया।

टोटल लाकडाउन की अफवाह से उमड़ी भीड़

इंटरनेट मीडिया पर एक अफवाह चल रही थी कि पूरे देश में एक साथ लंबे समय के लिए लाकडाउन लगाया जा सकता है। इस अफवाह के चलते किराना दुकानों पर रोजाना से ज्यादा भीड़ उमड़ गई थी। इस वजह से दोनों अधिकारियों को निरीक्षण के लिए निकलना पड़ा।

रामघाट पर भी तर्पण कर रहे लोगों को हटाया

सोमवार सुबह रामघाट पर शिप्रा नदी के किनारे पंडित तर्पण और क्रियाकर्म करवा रहे थे। घाट पर अच्छी खासी भीड़ एकत्र थी। 50 से अधिक दोपहिया वाहन भी खड़े हुए थे। जिसकी सूचना मिलने पर महाकाल थाना पुलिस मौके पर पहुंची और लोगों को हटा दिया। पुलिस ने कई बार अनाउंस कर कहा कि अगर लोग वहां से नहीं हटे तो उनके वाहनों को जब्त कर थाने भेज दिया जाएगा।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 

Show More Tags


Source link

Tags

Related Articles

Back to top button
vvanews
Close