उज्जैन

उज्जैन-झालावाड़ रोड 10 मीटर चौड़ा करने को निकाली निविदा

Publish Date: | Mon, 14 Dec 2020 01:17 AM (IST)

उज्जैन (नईदुनिया प्रतिनिधि)। उज्जैन से सोयत तक उज्जैन-झालावाड़ रोड को 10 मीटर चौड़ा करने के लिए भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) ने निविदा निकाल दी है। कहा है कि कंस्ट्रक्शन कंपनियां 22 जनवरी 2021 तक निविदा ऑनलाइन जमा कर सकती हैं। जिस भी कंपनी को रोड निर्माण का ठेका दिया जाएगा, उसे 730 दिन यानी दो साल में रोड बनाना होगा। निर्माण पर 454 करोड़ 63 लाख र्स्पये खर्च होंगे।

मालूम हो कि 180 किलोमीटर (किमी) लंबा उज्जैन-झालावाड़ रोड, राष्ट्रीय राजमार्ग क्रमांक 552 जी के नाम से जाना जाता है। ये मार्ग उज्जैन से घोंसला, घट्टिया, आगर, सुसनेर होकर सोयत में राजस्थान की सीमा को छूता है। मप्र की सरहद में इस सड़क की लंबाई 134 किमी है, जिसकी वर्तमान चौड़ाई साढ़े 5 मीटर है। ये मार्ग 16 साल पहले तत्कालीन ट्रैफिक व्यवस्था को ध्यान में रख साल 2003-04 में मप्र रोड डेवलपमेंट कार्पोरेशन ने बनवाया था। वर्तमान में इस मार्ग पर ट्रैफिक का दबाव अधिक हो गया है। मार्ग संकरा होने और सड़क के दोनों तरफ शोल्डर न बिछाए जाने से आए दिन दुर्घटनाएं भी हो रही हैं। भविष्य की संभावनाओं और विकास के क्रम को ध्यान में रख एनएचएआई ने अब इस मार्ग को 10 मीटर चौड़ा करने की तैयारी की है। टेंडर प्रक्रिया अगर जनवरी में पूरी हो जाती है तो 15 फरवरी के बाद धरातल पर काम शुरू होने की कवायद है। इस मार्ग पर 5 ब्रिज भी बनाए जाएंगे। मार्ग टू-लेन प्लस पेव्ड शोल्डर होगा।

राजस्थान की सरहद में 10 मीटर चौड़ा ही है मार्ग, सांसद चाहते थे फोरलेन बने

उज्जैन-झालावाड़ रोड, राजस्थान की सरहद में 10 मीटर चौड़ा ही है। जानकारों का कहना है कि वहां की सड़क की गुणवत्ता, मप्र की सरहद में बनाई सड़क की गुणवत्ता से बेहतर है। इस बार जो रोड और पुलिया बनाई जाए वो अधिक मजबूत बने, इस पर सरकार को खास ध्यान देने की आवश्यकता है। यह भी ज्ञात रहे कि उज्जैन के सांसद अनिल फिरोजिया चाहते थे कि उज्जैन-झालावाड़ रोड फोरलेन बने। इसके लिए उन्होंने कई प्रयास भी किए। महकमे के केंद्रीय मंत्री नितिन गड़करी से मुलाकात भी की थी। हालांकि उनकी सारी कोशिशे विफल रही।

अभी रोड की स्थिति खराब, आए दिन हो रही दुर्घटनाएं

वर्तमान में उज्जैन-झालावाड़ रोड की स्थिति खराब है। पेंचवर्क का कुछ काम मार्ग के कुछ हिस्से में अभी उपचुनाव के पहले किया गया था। लेकिन बजट के अभाव और रोड चौड़ीकरण की कवायद की वजह से बाद में रोक दिया गया। इस मार्ग पर 15 साल तक मेसर्स अग्रोहा इन्फ्रास्ट्रक्चर्स डेवलपर्स प्राइवेट लिमिटेड महू ने वाहन चालकों से टोल टैक्स वसूला था। इससे अग्रोहा कंपनी को औसतन 2.70 करोड़ र्स्पये महीने आय होती थी। इसी प्राप्त राशि से उसे रोड का मैंटेनेंस करना होता था, मगर वर्ष 2017 में कंपनी सड़क का मैंटेनेंस करे बगैर ही रफूचक्कर हो गई। इसके बाद मप्र रोड डेवलपमेंट कार्पोरेशन ने मार्ग का डामरीकरण जरूर कराया, पर मार्ग के दोनों तरफ शोल्डर नहीं बिछवाए। परिणाम स्वरूप ओवरटेक करने के दौरान दुर्घटना की संभावना बनी रहती है।

अगले चरण में उज्जैन से आगर, गरोठ तक बनेगा फोरलेन

अगले चरण में उज्जैन से आगर, गरोठ तक फोरलेन बनेगा। इसके लिए भूमि अधिग्रहण की कार्रवाई तेज हो गई है। मालूम हो कि भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण दिल्ली से मुंबई की दूरी कम करने को एक्सप्रेस हाईवे बनाना चाहता है। ये हाईवे आठ लेन का होगा, जिसके निर्माण पर 1 लाख करोड़ र्स्पये खर्च होना है। केंद्रीय मंत्री नितिन गड़कड़ी ने इसका निर्माण साल 2023 तक पूरा कराने की बात कही है। यह भी कहा है कि ये हाईवे देश ही नहीं बल्कि दुनिया के इतिहास का सबसे बड़ा एक्सप्रेस हाईवे होगा। इस हाईवे के आसपास लॉजिस्टिक पार्क, इंडस्ट्रियल क्लस्टर तैयार होगा। इससे पिछड़ा हुआ क्षेत्र विकसित होगा और लोगों को रोजगार के अवसर मिलेंगे। हाईवे बन जाने के बाद दिल्ली से मुंबई की दूरी 12 घंटे में पूरी की जा सकेगी। एक्सप्रेस-हाईवे रामगंज मंडी से मालवा क्षेत्र के गरोठ, जावरा, रतलाम होकर धांधला, झाबुआ से निकलेगा। मालवा को कनेक्टिविटी देने को 173 किमी लंबा फोरलेन मार्ग इंदौर, देवास, उज्जैन, आगर से गरोठ तक बनाया जाएगा। जानकारों का कहना है कि अधिग्रहित जमीन का पैसा केंद्र सरकार, राज्य को दे चुकी है, अब इसके वितरण में राज्य को तेजी लाना है।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 


Source link

Related Articles

Back to top button